खनिज और ऊर्जा संसाधनों का वर्गीकरण

खनिज  भू-वैज्ञानिकों के अनुसार खनिज एक प्राकृतिक रूप से विद्यमान समरूप तत्त्व है जिसकी एक निश्चित आंतरिक संरचना है। खनिज प्रकृति में अनेक रूपों में पाए जाते हैं जिसमें कठोर हीरा व नरम चूना तक सम्मिलित हैं। वर्तमान में यद्यपि 2000 से अधिक खनिजों की पहचान की जा चुकी है, लेकिन अधिकतर चट्टानों में केवल कुछ

संसाधनों का वर्गीकरण

हमारे पर्यावरण में उपलब्ध प्रत्येक वस्तु जो हमारी आवश्कताओं को पूरा करने में प्रयुक्त की जा सकती है और जिसको बनाने के लिए प्रौद्योगिकी उपलब्ध है, जो आर्थिक रूप से संभाव्य और सांस्कृतिक रूप से मान्य है, एक ‘संसाधन’ है। प्रकृति में उपलब्ध सभी संसाधन मानवीय क्रिया का परिणाम हैं। मानव स्वयं संसाधनों का महत्त्वपूर्ण हिस्सा

भारत में कृषि संसाधन

भूमि संसाधनों का उपयोग करके फसलों का उत्पादन करना कृषि कहलाता है भारत कृषि की दृष्टि से एक महत्त्वपूर्ण देश है। इसकी दो-तिहाई जनसंख्या कृषि कार्यों में संलग्न है। कृषि एक प्राथमिक क्रिया है जो हमारे लिए अधिकांश खाद्यान्न उत्पन्न करती है। खाद्यान्नों के अतिरिक्त यह विभिन्न उद्योगों के लिए कच्चा माल भी पैदा करती है। इसके

भारत में मृदा संसाधन

प्रकृति में मिट्टी (मृदा) सबसे महत्त्वपूर्ण नवीकरण योग्य प्राकृतिक संसाधन है। यह पौधों के विकास का माध्यम है जो पृथ्वी पर विभिन्न प्रकार के जीवों का पोषण करती है। मृदा एक जीवंत तंत्र है , लेकिन कुछ सेंटीमीटर गहरी मृदा बनने में लाखों वर्ष लग जाते हैं। मृदा बनने की प्रक्रिया में उच्चावच, जनक शैल अथवा

योजना – 2017 (सिक्योर हिमालय, सम्पूर्ण बीमा ग्राम योजना, सौभाग्य योजना)

‘सिक्योर हिमालय’ परियोजना केन्द्र सरकार ने 2 अक्टूबर, 2017 को ‘सिक्योर हिमालय’ परियोजना की शुरूआत की. परियोजना का शुभारम्भ केन्द्रीय पर्यावरण एवं वन मन्त्री डाॅ. हर्षवर्द्धन ने किया. संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम के सहयोग से इन राज्यों के उच्च हिमालयी क्षेत्रों में चलने वाली ‘सिक्योर हिमालय’ परियोजना की शुरूआत की. प्रमुख तथ्य- यह परियोजना 6

भारत के प्रमुख द्वीप

भारत में सबसे लंबी तट रेखा (Coast line ) गुजरात राज्य की, फिर आन्ध्र प्रदेश राज्य की और फिर महाराष्ट्र राज्य की है। भारत के द्वीपो को मुख्य रूप से दो भागो में बाटा जा सकता है- अरब सागर के द्वीप (लक्ष्यद्वीप समूह) बंगाल के द्वीप (अंडमान-निकोबार द्वीप समूह ) बंगाल के द्वीप (अंडमान-निकोबार द्वीप समूह ) यह द्वीप समूह बंगाल की

National Science Day – 2018

राष्‍ट्रीय विज्ञान दिवस -2018  (National Science Day) भारत में प्रत्‍येक वर्ष 28 Feb को राष्‍ट्रीय विज्ञान दिवस (National Science Day) के रूप में मनाया जाता है। 28 फरवरी 1928 एक महान दिन था जब प्रसिद्ध भारतीय भौतिक शास्त्री चन्द्रशेखर वेंकट रमन (C.V.Raman ) के द्वारा भारतीय विज्ञान के क्षेत्र में आविष्कार  को हमेशा याद और सम्मान

केंद्र सरकार द्वारा 2017 में शुरू की गई योजना

राष्ट्रीय कृषि विकास योजना (रफ्तार) भारत सरकार ने मूल्य श्रृंखला, एवं कृषि उद्यमिता विकास पर ध्यान केन्द्रित करते हुए वर्तमान में  केन्द्र द्वारा चलाई जा रही राष्ट्रीय कृषि विकास योजना को रफ्तार के रूप में 2017-18, 2018-19 एवं 2019-20 की अवधि में चलाए जाने का निर्णय लिया है। प्रमुख तथ्य- इसके लिए 15.722 करोड़ का बजटीय