UPSC Civil Services Pre. Exam Paper – 2019 (Hindi)

परीक्षण पुस्तिका – D सामान्य अध्ययन प्रश्न-पत्र समय : दो घण्टे पूर्णांक : 200 अनुदेश  1. परीक्षा प्रारम्भ होने के तरन्त बाद, आप इस परीक्षण पस्तिका की पड़ताल अवश्य कर लें कि इसमें कोई बिना छपा, या फटा हुआ पृष्ठ अथवा प्रश्नांश आदि न हो। यदि ऐसा है, तो इसे सही परीक्षण पुस्तिका से बदल

Madhya Pradesh Current Affairs – April 2019

MP PSC Current Affairs Complete eBook Download in Hindi – Hello Readers, मध्य प्रदेश की विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले विद्यार्थियों   के लिए हम प्रतिमाह मध्य प्रदेश करंट अफेयर्स महत्वपूर्ण पुस्तक शेयर कर रहे हैं| दोस्तों आप सभी को बता दें की जो करंट अफेयर्स की बुक हम आप सभी को उपलब्ध करा

मध्य प्रदेश — शिक्षा, रोज़गार एवं कौशल विकास संबंधी योजनाएँ

प्रतिभा किरण योजना प्रतिभा किरण योजना का प्रारंभ वर्ष 2008-09 में किया गया। इस योजना का उद्देश्य शहरी क्षेत्र में गरीबी रेखा के नीचे जीवनयापन करने वाले परिवारों के मेधावी विद्यार्थियों के शिक्षा स्तर में सुधार करना है। यह लाभ उन विद्यार्थियों को मिलता है, जिन्होंने 12वीं कक्षा की परीक्षा  प्रथम श्रेणी से उत्तीर्ण की

मध्य प्रदेश — अनुसूचित जाति एवं जनजाति कल्याण संबंधित योजनाएँ

कन्या साक्षरता प्रोत्साहन   कन्या साक्षरता प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत अनुसूचित जनजाति की बालिकाओं में शिक्षा के प्रोत्साहन हेतु 5वीं  कक्षा, 8वीं  कक्षा एवं 10वीं कक्षा की परीक्षा उर्तीण कर अगली कक्षा में प्रवेश लेने पर छात्राओं को क्रमशः 1500 ₹, 1000 ₹ एवं 3000 ₹ की प्रोत्साहन राशि दो किश्तों में प्रदान की जाएगी । शिक्षा के

विभिन्न क्षेत्रों में उत्तराखण्ड के प्रथम व्यक्ति

1. उत्तराखंड राज्य के प्रथम मुख्यमन्त्री  [showhide type=”links01″ more_text=”Show Answer ” less_text=”Hide Answer “]श्री नित्यानन्द स्वामी[/showhide] 2. उत्तराखंड राज्य के प्रथम राज्यपाल [showhide type=”links02″ more_text=”Show Answer ” less_text=”Hide Answer “]सुरजीत सिंह बरनाला[/showhide] 3. उत्तराखंड राज्य के प्रथम निर्वाचित मुख्यमन्त्री  [showhide type=”links03″ more_text=”Show Answer ” less_text=”Hide Answer “] नारायण दत्त तिवारी[/showhide] 4. उत्तराखंड राज्य के प्रथम

चक्रवात एवं प्रतिचक्रवात (Cyclone and Anticyclone)

चक्रवात (Cylone) चक्रवात का संबंध निम्न वायुदाब के केन्द्र से  हैं, जिनके चारों तरफ समर्केन्द्रीय समवायुदाब रेखाएँ विस्तृत होती हैं तथा केन्द्र से बाहर की ओर वायुदाब बढ़ता जाता है। परिणाम स्वरूप बाहर (परिधि) से केन्द्र की ओर हवाएँ चलने लगती है। हवा की दिशा उत्तरी गोलार्द्ध में घड़ी के सुइयों के विपरीत (Anti-Clockwise) तथा

वाताग्न का निर्माण व उत्पति

वाताग्न वह सीमा है जिसके सहारे दो विपरीत स्वभाव वाली वायु (ठंडी व गर्म वायु) आपस मिलती हैं। यह ठंडी व गर्म वायु के मध्य 5 से 80 Km चौड़ी एक संक्रमण पेटी होती है। इसे वाताग्न प्रदेश भी कहा जाता है। वाताग्न उत्पत्ति की प्रक्रिया को वाताग्न उत्पत्ति एवं उसके नष्ट होने की प्रक्रिया

वायुदाब पेटियाँ (Air Pressure Belts)

पृथ्वी की सतह पर वायु के भार द्वारा लगाया गया दाब, वायु  दाब कहलाता है। वायुमंडल में ऊपर की तरफ जाने पर दाब (Pressure) तेजी से गिरने लगता है। समुद्र स्तर पर वायुदाब सर्वाधिक होता है  और ऊंचाई पर जाने पर यह घटता जाता है। वायु दाब (Air Pressure) का क्षैतिज वितरण किसी स्थान पर

पृथ्वी का उष्मा बजट (Heat budget of the earth)

पृथ्वी पर औसत तापमान लगभग एक समान रहता है। यह सूर्यातप (Insolation) और भौतिक विकिरण (Physical radiation) में संतुलन के कारण ही संभव हुआ है।  सूर्यातप (Insolation) और भौतिक विकिरण (Physical radiation) के मध्य संतुलन को ही पृथ्वी की उष्मा बजट (Heat budget) कहते हैं। यदि सूर्य से पृथ्वी के वायुमंडल की ऊपरी सतह पर प्राप्त होने वाली कुल