एशिया महाद्वीप की प्रमुख पर्वत श्रृंखला, पठार और ज्वालामुखी (Major mountain ranges, Plateau and Volcano of Asia Continent,)

नवीन-मोड़दार पर्वत श्रृंखला

  • कुनलुन पर्वत श्रेणी — चीन की सबसे ऊँची पर्वत चोटी – पिको पेबोडा
  • नान शान — चीन (China)
  • अल्ताई शान — चीन व रूस, मंगोलिया
  • चोंग लिन (Chong Lin) — चीन (China)
  • ग्रेट खिंगन (Great Khingan) — चीन के मंगोलिया क्षेत्र में
  • त्यान शान (Tan shan) — चीन (China)

पामीर पर्वत श्रृंखला 

इस पर्वत श्रृंखला का विस्तार उज्बेकिस्तान व तजाकिस्तान (मध्य एशिया) में हैं। इस पर्वत श्रृंखला की सबसे ऊँची चोटी – कोंगूर तग (7649 meter) हैं

हिन्दुकश पर्वत (Hindukash Mountains)

यह पर्वत श्रृंखला अफगानिस्तान (Afghanistan) व पाकिस्तान (पाकिस्तान) की सीमा पर स्थित इस पर्वत श्रृंखला की सबसे ऊँची चोटी तिरिचमार है हिमालय पर्वत (Himalaya Mountains) का पश्चिमी मोड़, खैबर दर्रा (Khyber Pass) यहीं स्थित है, तथा स्वात घाटी तथा तोरा बोरा इसी का भाग है।

सुलेमान पर्वत (Suleiman Mountains) → यह पर्वत पाकिस्तान में स्थित है।

किरथर पर्वत (Kirthar Mountains) → यह पर्वत पाकिस्तान में स्थित है।

मकरान तटीय पर्वतमाला (Makran coastal ranges) → यह पर्वत  पाक व ईरान की सीमा बनाती है।  इसी का भाग चगाई की पहाड़ी है, जिसमें पाकिस्तान का परमाणु परीक्षण केन्द्र स्थित  है।

ईरान (Iran)

एल्बुर्ज पर्वत (Elburg Mountains),  ईरान (Iran) की सबसे ऊँची चोटी है, जिसमे एक मृत ज्वालामुखी देवमंद स्थित है।

कोह – यह भी ईरान में स्थित एक दूसरा मृत ज्वालामुखी है।

तुर्की (Turkey)

पोंटिक पर्वतमाला (Pontiac Mountains) — इस पर्वत श्रृंखला की सबसे ऊँची पर्वत चोटी अरारात (Ararat) है, जो एक (प्रसुप्त ज्वालामुखी) हैं।

टॉरस पर्वतश्रृंखला (Torus Mountain Range) — पोंटिक (Pontiac) व टॉरस (Torus) पर्वत के मध्य अनातोलिया पठार (Anatolia Plateau) स्थित है, जो बकरी पालन हेतु प्रसिद्ध हैं। • यहाँ अंगोरा जाति की बकरी मिलती है जिससे मोहेर ऊन मिलता है जो संसार का सबसे मंहगा ऊन है।

Note : खरगोश का ऊन – अंगोला

अराकानयोमा पर्वत श्रृंखला (Arakan Yoma Mountain Range)

यह पर्वत श्रृंखला भारत और म्यांमार की सीमा पर स्थित है, जिसकी सबसे ऊँची पर्वत चोटी विक्टोरिया है। यह पर्वत श्रृंखला हिमालय का पूर्वी मोड़ है।

हिमालय पर्वत श्रृंखला (Himalaya Mountain Range)

इस पर्वत श्रृंखला का विस्तार भारत, पाकिस्तान, अफगानिस्तान, चीन, नेपाल, भूटान और म्यांमार में विस्तृत है, जिसकी सबसे ऊँची पर्वत चोटी माउंट एवरेस्ट (8,848 meter) है।

major mountain ranges of asia


एशिया महाद्वीप के प्रमुख पठार

तिब्बत का पठार (Plateau of Tibet)

चीन (China) में स्थित यह विश्व का सबसे बड़ा पठार (Plateau) है, जो  विश्व का सबसे ऊँचा रेलमार्ग है जो तिब्बत (Tibet) की राजधानी ल्हासा (Lhasa) को छिंगहारे (Chinghare) से जोड़ता है।

पामीर का पठार (Plateau of Pamir)

तजाकिस्तान (Tajikistan) तथा अन्य देशों में स्थित यह विश्व का सबसे ऊँचा पठार है, जो विश्व की छत कहलाता है।

शान का पठार (Shan Plateau)

शान का पठार, म्यांमार देश में स्थित है, जो खनिजों के लिए प्रसिद्ध है।  इस पठार का बादविन क्षेत्र मुख्यत: चांदी (silver) उत्पादन हेतु प्रसिद्ध हैं।म्यांमार (Myanmar), एशिया में चांदी का दूसरा सबसे बड़ा उत्पादक देश हैं।

यूनान का पठार 

यह पठार दक्षिणी चीन में स्थित है, यहीं पर कुनमिंग शहर (Kunming City) स्थित है।


एशिया महाद्वीप के प्रमुख ज्वालामुखी पर्वत 

  • पोपा — म्यांमार में स्थित यह एक मृत ज्वालामुखी है।
  • ब्रोमो — जावा द्वीप, इण्डोनेशिया, में स्थित यह एक सक्रिय ज्वालामुखी है।
  • काकातोआ — इण्डोनेशिया, में स्थित यह एक प्रसुप्त ज्वालामुखी है।
  • मेपान, ताल, पिनाटाबू — फिलीपीन्स में स्थित यह तीनों सक्रिय ज्वालामुखी है।
  • फ्यूजीयामा — यह एक प्रसुप्त ज्वालामुखी है।
  • होंशू द्वीप (जापान) — जापान में स्थित यह एक प्रसुप्त ज्वालामुखी है, जो एक घोसलेदार शंकु का उदाहरण है।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *