भारत रत्न पुरस्कार – Bharat Ratna Award (2019)

भारत सरकार द्वारा वर्ष 2019 के लिए 26 जनवरी को भारत रत्न (Bharat Ratna) पुरस्कार पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी (Pranab Mukherjee), भूपेन हजारिका (Bhupen Hazarika) और नानाजी देशमुख (Nanaji Deshmukh) को प्रदान किया गया। भारत रत्न (Bharat Ratna) देश का सर्वोच्च नागरिक सम्मान है, यह पुरस्कार कला, साहित्य, विज्ञान, सार्वजनिक सेवा और खेल के क्षेत्रो में दिया जाता। पहले भारत रत्न पुरस्कार खेल के क्षेत्र में नहीं दिया जाता था किन्तु बाद में इसे सूची में शामिल किया गया है।

प्रणब मुखर्जी (Pranab Mukherjee)

प्रणब मुखर्जी 2012-2017 तक भारत के 13वें राष्ट्रपति थे। 11 दिसंबर 1935 को पश्चिम बंगाल के बीरभूम जिले के मिराती गांव में जन्म हुआ। प्रणब मुखर्जी भारत रत्न पाने वाले देश के 6th व्यक्ति है जो राष्ट्रपति पद पर रह चुके हैं। इससे पूर्व सर्वपल्ली राधाकृष्णन और डॉ. ए. पी. जे. अब्दुल कलाम को राष्ट्रपति बनने से पूर्व ही यह सम्मान मिला था।

नानाजी देशमुख (Nanaji Deshmukh)

nanaji deshmukh

समाजसेवी नानाजी देशमुख का जन्म 11 अक्टूबर 1916 को हुआ तथा निधन 27 फरवरी, 2010 को चित्रकूट में हुआ था। नानाजी देशमुख पूर्व में भारतीय जनसंघ के नेता थे। बालगंगाधर लोकमान्य तिलक से प्रभावित होकर नानाजी देशमुख समाजसेवा में लग गए। इससे वर्ष पूर्व 1999 में नानाजी देशमुख को पद्मविभूषण से भी सम्मानित किया गया ।

भूपेन हजारिका (Bhupen Hazarika)

bhupen hazarika

भूपेन हजारिका का जन्म 8 सितंबर, 1926 को तिनसुकिया जिले के सदिया गांव (असम) में हुआ तथा 5 नवंबर, 2011 को मुंबई में 85 साल की उम्र में निधन हुआ। बहुमुखी प्रतिभा के धनी भूपेन हजारिका गीतकार, संगीतकार और गायक थे। इसके अतिरिक्त भूपेन हजारिका असमिया भाषा के कवि, फिल्म निर्माता, लेखक और असम की संस्कृति और संगीत के जानकार भी थे। असम और अरूणांचल प्रदेश में स्थित ढोला-सदिया सेतु को भूपेन हाजरिका सेतु के नाम से भी जाना जाता है, जो भारत का सबसे लम्बा पुल है। इस सेतु का उद्घाटन 26 मई 2017 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा किया गया ।

इससे पूर्व भी भूपेन हजारिका को निम्न पुरस्कारों से सम्मानित किया जा चुका है –

  • 1975 में सर्वश्रेष्ठ संगीत निर्देशन के लिए राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार,
  • संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार (1987),
  • पद्मश्री (1977),
  • पद्मभूषण (2001)

भारत रत्न पुरस्कार विजताओं की सूची

क्र. स. नाम क्षेत्र वर्ष
1 सी राजगोपालाचारी समाज सेवक 1954
 2 सर्वपल्ली राधाकृष्णन दार्शनिक 1954
 3 चन्द्रशेखर वेंकटरमन विज्ञान 1954
 4 भगवान दास ब्रह्मविद्यावादी 1955
 5 एम विश्वेश्वरैया विज्ञान 1955
 6 जवाहर लाल नेहरू समाज सेवक 1955
 7 गोविन्द बल्लभ पन्त समाज सेवक 1957
 8 धोंडो केशव कर्वे समाज सेवक 1958
 9 बिधान चंद्र रॉय चिकित्सा 1961
 10 पुरुषोत्तम दास टंडन समाज सेवक 1961
11 राजेंद्र प्रसाद समाज सेवक 1962
 12 जाकिर हुसैन समाज सेवक 1963
 13 पांडुरंग वामन काणे समाज सेवक 1963
 14 लाल बहादुर शास्त्री समाज सेवक 1966
 15 इंदिरा गाँधी समाज सेवक 1971
 16 वी॰ वी॰ गिरि समाज सेवक 1975
 17 के. कामराज समाज सेवक 1976
 18 मदर टेरेसा समाज सेवक 1980
 19 विनोबा भावे समाज सेवक 1983
 20 ख़ान अब्दुल ग़फ़्फ़ार ख़ान समाज सेवक 1987
 21 एम जी रामचन्द्रन समाज सेवक 1988
 22 बी आर अम्बेडकर समाज सेवक 1990
 23 नेल्सन मंडेला समाज सेवक 1990
 24 राजीव गाँधी समाज सेवक 1991
 25 वल्लभ भाई पटेल समाज सेवक 1991
 26 मोरारजी देसाई समाज सेवक 1991
 27 अबुल कलाम आजाद समाज सेवक 1992
 28 जे आर डी टाटा समाज सेवक 1992
 29 सत्यजित राय कला (सिनेमा) 1992
 30 गुलजारी लाल नंदा समाज सेवक 1997
 31 अरुणा आसफ अली समाज सेवक 1997
 32 ए पी जे अब्दुल कलाम विज्ञान 1997
 33 एम एस सुब्बुलक्ष्मी कला 1998
 34 चिदम्बरम सुब्रमण्यम समाज सेवक 1998
 35 जयप्रकाश नारायण समाज सेवक 1999
 36 अमर्त्य सेन विज्ञान (अर्थशास्त्र) 1999
 37 गोपीनाथ बोरदोलोई समाज सेवक 1999
 38 रवि शंकर कला 1999
 39 लता मंगेशकर कला 2001
 40 बिस्मिल्लाह खान कला 2001
 41 भीमसेन जोशी कला 2009
 42 सी एन आर राव विज्ञान 2014
 43 सचिन तेंदुलकर खेल 2014
 44 मदन मोहन मालवीय समाज सेवक 2015
 45 अटल बिहारी बाजपेयी समाज सेवक 2015
 46 डॉ. भूपेन हजारिका कला
 47 नानाजी देशमुख समाज सेवक 2019
 48 प्रणब मुखर्जी समाज सेवक

Note :

एक वर्ष में अधिकतम तीन व्यक्तियों को ही ‘भारत रत्न’ दिया जा सकता है।

One Comment

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!