अफ्रीका महाद्वीप – खान, खनिज और कृषि उत्पाद,

खान एवं खनिज

विश्व में सर्वाधिक खनिज भंडार अफ्रीका में स्थित हैं। जो निम्न है –

सोना (Gold)

दक्षिण अफ्रीका इस महाद्वीप का सबसे बड़ा सोना (Gold) उत्पादक देश हैं।

संसार की सबसे बड़ी सोने की खान- विंटवाटर्स  रेंड (दक्षिण अफ्रीका) में स्थित है।  दक्षिण अफ्रीका का जोहान्सबर्ग शहर को सोने की मण्डी के नाम से भी जाना जाता हैं।

अफ्रीका महाद्वीप का सोने का दूसरा बड़ा उत्पादक देश घाना (Ghana) है इसके तट को Gold Coast कहा जाता है।

हीरा (Diamond)

बोत्सवाना (Botswana) अफ्रीका महाद्वीप का सबसे बड़ा हीरा (Diamond) उत्पादक देश तथा विश्व का दूसरा सबसे बड़ा उत्पादक देश है।

जायरे (Zaire) अफ्रीका महाद्वीप का दूसरा सबसे बड़ा उत्पादक देश है। यहां स्थित कटंगा क्षेत्र और  शिकापा खान हीरा उत्पादन हेतु प्रसिद्ध है।

दक्षिण अफ्रीका (South Africa) अफ्रीका महाद्वीप का तीसरा सबसे बड़ा उत्पादक देश है। दक्षिण अफ्रीका में स्थित प्रिमियम खान विश्व की सबसे बड़ी हीरे की खान है। इसी स्थल से विश्व का सबसे बड़ा हीरा कुलीनन प्राप्त हुआ है।

सियरा लियोन (Sierra Leone) अफ्रीका महाद्वीप का चौथा बड़ा उत्पादक देश है, जो खूनी हीरों के लिये कुख्यात है।

किम्बरले खान : दक्षिण अफ्रीका में यह खान पहले सोने व हीरे के लिए प्रसिद्ध थी।

अन्य प्रमुख खनिज संसाधन

  • तांबा          – जायरे
  • कोबाल्ट     – जायरे
  • कोयला      – तंज़ानिया, दक्षिण अफ्रीका
  • पेट्रोलियम  – नाईजीरिया

Africa continent - mines, minerals, agricultural products,


अफ्रीका महाद्वीप के प्रमुख कृषि उत्पाद

रतालू, कसावा (जमकिंद) – अफ्रीका का मुख्य भोजन

कोको                             – विश्व का सबसे बड़ा उत्पादक देश आइवरी कोस्ट हैं तथा दूसरा बड़ा उत्पादक घाना

रबड़                              – लाइबेरिया अफ्रीका महाद्वीप का सबसे बड़ा रबड़ उत्पादक देश

लॉग                               – पम्बा व जंजीबार द्वीप विश्व प्रसिद्ध (तंजानिया देश के अंतर्गत व हिन्द महासागर)

खाद्यान्न तट                     – सियरा लियोन

दासों का तट                     नाईजीरिया

स्थानान्तरित कृषि            – मेडागास्कर में टाबी, मध्य अफ्रीका में लोमन और मसोल नाम से जाना जाता है


अफ्रीका महाद्वीप की प्रमुख  जनजातियाँ

बुशमैन  – मौन व्यापार, कालाहारी मरूस्थल, बोत्सवाना

पिग्मी    – “अर्थ-बौना” मध्य अफ्रीका में कांगो व जायरे देश (विषुवतीय क्षेत्र)

मसाई  – केन्या व तंजानिया

हत्तु व टुटसी – रवांडा देश में

होटेन्टाइट – अफ्रीका महाद्वीप के दक्षिणी भाग में तथा बुशमैनों के साथ मौन व्यापार

जुलु व बोअर – साउथ अफ्रीका में निवास करती है।


Other Facts

अफ्रीका महाद्वीप में सर्वाधिक जनजातियाँ रहती है।

अफ्रीका महाद्वीप मानव सभ्यता की जन्मभूमि कहा जाता है।

स्वेज नहर 

  • 1869 में फ्रांस के इंजीनियर – फडिनेंड डि लेस्रोप।
  • निर्माता देश – फ्रांस, ब्रिटेन • इसके निर्माण से भारत व ब्रिटेन के मध्य  7000 Km की दूरी कम हो गई।
  • कुल लम्बाई – 164 किलोमीटर जब बनी थी।

वर्तमान -1933 किलोमीटर, इसके उत्तरी व दक्षिणी भाग में 2 बंदरगाह स्थित है

  • पोर्ट सईद (उत्तरी)
  • स्वेज (दक्षिणी)

  • स्वेज नहर का निर्माण मिस्र के सिनाई प्रायद्वीप को काटकर किया गया।
  • स्वेज नहर भूमध्य सागर (अटलांटिक महासागर) को लाल सागर (हिंद महासागर) से जोड़ती हैं।
  • यह  दुनिया की सबसे व्यस्त नहर है।
  • 1955 में मिस्र (Egypt) के राष्ट्रपति कर्नल नासिर ने इस नहर का राष्ट्रीयकरण कर दिया।
  • वर्तमान में मिस्र (Egypt) इसी नहर के पास नयी स्वेज नहर का निर्माण कर रहा है।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!