भारत के प्रमुख द्वीप

भारत में सबसे लंबी तट रेखा (Coast line ) गुजरात राज्य की, फिर आन्ध्र प्रदेश राज्य की और फिर महाराष्ट्र राज्य की है। भारत के द्वीपो को मुख्य रूप से दो भागो में बाटा जा सकता है-

  • अरब सागर के द्वीप (लक्ष्यद्वीप समूह)
  • बंगाल के द्वीप (अंडमान-निकोबार द्वीप समूह )

andman , nicobar, minicoy , karavati , lakshyadwep

बंगाल के द्वीप (अंडमान-निकोबार द्वीप समूह )

  • यह द्वीप समूह बंगाल की खाडी़  में स्थित हैं।
  • अण्डमान समूह में 204 द्वीप है, जिनमें मध्य अण्डमान (Middle Andman) सबसे बड़ा द्वीप है।
  •  यह विश्वास किया जाता है कि ये द्वीप समूह देश के उत्तर-पूर्व में स्थित पर्वत शृंखला का विस्तार है।
  • उत्तर अण्डमान में स्थित कैंडल पीक (Sadale Peak) सबसे ऊँची (737 मीटर) चोटी है।
  • निकोबार  समूह में 19 द्वीप है, जिनमें ग्रेट निकोबार सबसे बड़ा है।
  • ग्रेट निकोबार सबसे दक्षिण में स्थित है और इण्डोनेशिया के सुमात्रा द्वीप से केवल 147 किमी. दूर हैं
  •  बेरन (Barren) & नारकोंडम (Narcondam) ज्वालामुखीय द्वीप हैं जो अंडमान निकोबार द्वीप समूह में स्थित है।
  • डंकन पैसेज (Dencuan Passage) दक्षिण अण्डमान एवं लिटिल अण्डमान के बीच है।
  • 10 डिग्री चैनल लिटिल अण्डमान एवं कार निकोबार के बीच है। यह अण्डमान को निकोबार से अलग करता है।

अरब सागर के द्वीप (लक्ष्यद्वीप समूह)

  • ये द्वीप अरब सागर में स्थित है।
  •  इस समूह में 25 द्वीप हैं। ये सभी मूँगे के द्वीप (Coral Island) हैं एवं प्रवाल भित्तियों (Coral Reefs) से निर्मित है।
  • इनमें तीन मुख्य द्वीप –
    • लक्षद्वीप (उत्तर में)
    • कावारत्ती (मध्य में)
    • मिनीकाॅय (दक्षिण में)
  • 9 डिग्री चैनल कावारत्ती को मिनीकाॅय से अलग करती है।
  • 8 डिग्री चैनल मिनीकाॅय द्वीप (भारत) को मालदीव से अलग करता है।
Read More :   ज्वालामुखी और ज्वालामुखी स्थलाकृतियाँ

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!